| |

| Best 60+ | Bichadne ki Shayari प्रेमिका से बिछड़ने की शायरी(2024)

Bichadne ki Shayari
5/5 - (1 vote)
Bichadne ki Shayari- दोस्तो अगर आप भी अपने गर्लफ्रेंड या ब्वॉयफ्रेंड से बिछड़ गए हैं और अपने प्यार से दूर चले गए हैं जिसकी याद में आप bichadne ki shayari ढूंढ रहें हैं तो हम आपके लिए बिछड़ने वाली दर्द भरी शायरी लाए हैं । यहां आपको bichadne ki shayari in hindi, pyar me bichadne ki shayari, girlfriend se bichadne ki shayari, boyfriend se bichadne ki shayari,apno se bichadne ki shayari,chhodkar jane wali shayari, जैसी बहुत अच्छी अच्छी शायरी मिलने वाली है जिनको आप कॉपी करके अपने whatsApp status पर भी लगा सकते है।

 

 

 

Bichadne ki shayari in hindi बिछड़ने वाले दर्द भरी शायरी

 

 

आँखों मे आँसु का पता न चलता
दिल को दर्द का एहसास न होता
कितना हसीं होता ये जिंदगी का सफ़र
अगर कभी मिलकर बिछड़ना न होता ।

Aankhon Mein Aansu Ka Pata na chalta
Dil Ko dard ka Ehsas Na Hota
Kitna Haseen Hota yah Jindagi Ka Safar
Agar kabhi Milkar bichhadna Na Hota..

 

तेरा छोड़ जाना और मेरा टूट जाना
बस जज़्बातों का धोखा था
एक साल और बीत गया
कभी एक पल गुज़ारना मुश्किल था । 

Tera Chhod Jana aur mera Tut Jana
Bus jajbaton ka Dhokha tha
Ek Sal aur Beet Gaya
Kabhi Ek Pal gujarna Mushkil tha.. 

 

मैने खुदा से पूछा वो छोड गया मुझे
जाने क्या उस्की मजबूरी थी
खुदा न कहा इसमें उसका कोई कसूर नही
ये कहानी मैने लिखी ही अधूरी थी । 

Maine Khuda Se poochha vah Chhod Gaya Mujhe Jaane Kya Uski Majburi thi,
Khuda Ne Kaha ismein uska koi Kasur Nahin
Yah Kahani Maine likhi hi Adhuri thi... 

 

तेरा बिछड़ना भी मंजूर था, तेरी बेवफाई भी मंजूर थी 
एक बार हस के बता देती, तेरे लिए मौत भी मंजूर थी । 

Tera bichhadna Bhi manjur
Tha Teri Bewafai bhi manjur thi
Ek Bar Hans ke bata deti
Tere Liye Maut bhi manjur thi

 

मै ना मुड़के कभी देखूंगा उसे 
आज खुद से ये वादा कर लिया
जा ज़ी ले अपनी ज़िन्दगी मैंने तुझे 
खुद से जुदा कर दिया । 

Main Na Mud Ke Kabhi dekhunga use
Aaj Khud se yah Vada kar liya
Ja Jile apni Jindagi Maine Tujhe
Khud Se Juda Kar Diya....

 

bichadne wali shayari status प्यार से बिछड़ने की शायरी

बिछड़ने की शायरी फोटो

बिछड़ने की शायरी फोटो

 

वक़्त नूर को बेनूर कर देता है
छोटे से जख्म को नासूर कर देता है
कौन चाहता है अपनों से दूर रहना
पर वक़्त सबको मजबूर कर देता है।

Waqt Nur ko benur kar deta hai 
Chhote se jakhm ko naasur kar deta hai 
Kaun Chahta Hai apnon Se Dur Rahana 
Par waqt Sabko majbur kar deta hai... 
 
 
टूटा है भरोसा दूसरी बार नहीं करेंगे
पहले की तरह इंतज़ार नहीं करेंगे
जा अब तेरी सारी बेवफाई माफ़ हैं
तुझपे फिर कभी भरोसा नहीं करेंगे । 

Tuta Hai Bharosa dusre bar Nahin Karenge
Pahle Ki Tarah Intezar Nahin Karenge 
Ja ab teri sari Bewafai Maaf hai 
Tujh per FIR Kabhi Bharosa Nahin Karenge... 
पत्थर दिल बना गया उसका छोड़ जाना
अब मैं बिखर भी जाऊं
तो कोई मुझे समेट नहीं पाएगा । 
Pathar Dil Bana Gaya uska Chhod Jana Ab main bikhar bhi jaaun To Koi Mujhe samet nahin payega...

 

कितना फासला था हमारे दरमियान
उन्हें हमारा मिलना ज़रूरी नहीं था
हमें हमारा बिछड़ना मंज़ूर नहीं था। 

Kitna fasla tha Hamare Darmiyan 
Unhen Hamara Milna Jaruri nahin tha 
Hamen Hamara bichhadna manjur nahin tha... 
 

Girlfriend se bichadne ki shayari

 
 
वक़्त के मोड़ पे ये कैसा वक़्त आया है
ज़ख़्म दिल का ज़ुबाँ पर आया है
न रोते थे कभी काँटों की चुभन से
आज न जाने क्यों फूलों की खुशबू से रोना आया है।

Waqt ke Mod par yah kaisa waqt aya hai
Jakhm Dil Ka juban per Aaya Hai
Na Rote the Kabhi kanto ki chubhan se
Aaj Na Jaane Kyon Phoolon Ki Khushbu se Rona Aaya hai... 
 
 
 
वफ़ा की ज़ंज़ीर से डर लगता है
कुछ अपनी तक़दीर से डर लगता है
जो मुझे तुझसे जुदा करती है
हाथ की उस लकीर से डर लगता है।
Wafa ki Zanjeer se dar lagta hai Kuchh apni takdeer se dar lagta hai Jo Mujhe Tujhse Juda karti hai Hath ki uss lakkir se dar lagta hai...
 
 
बस इतनी ही मोहब्बत थी तुझे
के दोबारा मिलने तू आ ना सका
वादे तो तूने बहुत किये थे
पर एक भी ठीक से निभा ना सका । 

Bas itni hi mohabbat thi tujhe
Ki Dobara milne tu a Na Saka
Wadaye to tune bahut kiye the 
Per Ek bhi theek se nibhaa naa saka... 

 

हर रोज पीता हूँ तेरे छोड़ जाने के गम में
वरना पीने का मुझे कोई शौक नहीं
बहुत याद आते हैं तेरे साथ बिताए हुए लम्हे
वरना मुझे मर -मर कर जीने का कोई शौक नहीं। 

Har roj Pita hun tere Chhod Jaane Ke Gam mein
Varna Peene Ka Mujhe Koi Shauk Nahin
Bahut Yad Aate Hain Tere Sath bitae Hue Lamhe
Varna Mujhe Mar Mar Ke Jeene Ka Koi Shauk Nahin... 


 

bichadne wali shayari 2 line(bichadna shayari 2 line)

अगर बिछड़ने से मुस्कुराहट लौट आये तुम्हारी
तो हक है तुम्हे कि मुझसे दूरियां बना लो । 

 Agar bichhadne se Muskurahat Laut Aaye Tumhari
Toh Hak Hai Tumhen ki Mujhse Dooriyaan banaa loo... 
मोहब्बत करने वालों को वक़्त कहां जो गम लिखेंगे
कलम इधर लाओ इन ​बेवफाओं​ के बारे में हम लिखेंगे। 

 Mohabbat Karne Walon Ko Waqt kahan Jo Gam Likhenge
Kalam idher lao inn bewafaon ke bare mein Ham Likhenge... 
बिछड़ते वक्त सारी कमियां गिनाई उसने
मिलते वक्त जिसने कहा थातुम्हारे जैसा कोई नही । 

Bichadte waqt sari kamiyan ginai usne
Milte Waqt Jisne Kaha Tha Tumhare Jaisa Koi Nahin... 
bichadne ki shayari in hindi
bichadne ki shayari in hindi

 

जब बीच सफर में छोड़ना ही था तो साथ मेरे आया ही क्यों
जब दिल तोड़ना ही था तो दिल लगाया ही क्यों? 

Jab Bich Safar Mein chhodana Hi Tha 
Toh Sath Mere Aaya hi kyon 
Jab Dil Todna Hi Tha To Dil Lagaya hi kyon? 

Read Also- बारिश का मौसम हिंदी शायरी(barish quotes in hindi)

 
ये मोहब्बत के हादसे अक्सर दिलों को तोड़ देते हैं
तुम मंजिल की बात करते हो लोग राहों में ही साथ छोड़ देते हैं। 

Yeh Mohabbat Ke Haadse Aksar Dilon ko tod Dete Hain 
Tum Manjil ki baat karte ho 
log Rahon Mein Hi Sath Chhod Dete Hain
भूल जाने का मशवरा और ज़िंदगी जीने की सलाह
ये कुछ आखिरी तौफ़े मिले थे उनसे आखिरी मुलाक़ात में।
Bhul jaane ka mashvara aur Jindagi Jeene Ki Salah yah Kuchh Aakhri tohfe mile the Unse Aakhri Mulakat Mein..
 
 
 
खो कर पता चलती है कीमत किसी की
पास अगर हो तो अहसास कहाँ होता है । 
Khokar Pata Chalti Hai kimat Kisi Ki Pass Agar ho to Ehsas kahan hota hai...
 
 
उन्होंने तो हमे चाहकर भी छोड़ दिया 
और हम उन्हें आज छोड़कर भी चाहते हैं । 

Unhone To  Hume Chahkar Bhi Chor Diya 
Or Hum Unhe Aaj Chorkar Bhi Chahte Hai 
 
 
 
आज फिर जा पहुंचे हम उस मोड़ पर
जहां से चले गए थे तुम हमे तन्हा छोड़कर। 

Aaj Fir Ja pahunche Ham use Mod per 
Jahan se chale gaye the tum Hamen Tanha chhodkar... 
 
किसने किसको छोड़ा क्या फर्क पड़ता है?
तन्हा तो हम भी हुए और वो भी । 

Kisne Kisko Chhoda kya Fark padta hai
Tanha To Ham bhi Hue Aur vo Bhi... 
 
 
तेरे बिना रह नहीं सकता पर तेरी खुशी के लिए 
मैं तुझसे दूर होने का दर्द भी सह लेता हूं । 

Tere Bina Rah Nahin Sakta per Teri Khushi Ke Liye
Main Tujhse Dur hone Ka Dard Bhi Sah Leta Hun... 

 

 

एक दूसरे से दूर होने की शायरी(chhodkar jane wali shayari) 

 
 
 
जहां जाना है जाओ, तुमसे अब कोई रिश्ता थोडी है
और जिसके लिए मुझे छोड़कर गए हो
वो भी कोई फरिश्ता थोडी है । 

Jaha jana hai jao Tumse Ab Koi Rishta thodi hai
Aur Jiske Liye Mujhe Chhod Kar Gaye Ho
Vo Bhi Koi Farishta thodi hai... 
 
 
 
साए ने साथ छोड़ दिया यार ने दिल तोड़ दिया
अब तो खुदा भी मेरे खिलाफ हो गया
जो प्यार का चिराग जलाया था मैने
उसी चिराग से जलकर मैं खाक हो गया । 

Saye ne sath Chhod Diya Yaar Ne Dil Tod Diya
Ab To Khuda Bhi Mere khilaf Ho Gaya 
Jo Pyar Ka Chirag jalaya tha maine 
Usi Chirag se jalkar main khaak ho gaya.  
 
 
 
मुझे जिसने जिंदगी दी वो मरता छोड़ गए
जिससे मोहब्बत की वो मुझे तन्हा छोड़ गए
थी हमे भी एक हमसफ़र की जरूरत साथ चलने के लिए
जो साथ चलने बाले थे वही रास्ता मोड़ गए। 

Mujhe Jisne Jindagi Di Vo Marta Chhod Gaye 
Jisse Mohabbat Ki vo Mujhe Tanha Chhod Gaye 
Thi hamen bhi Ek Humsafar ki jarurat Sath chalne ke liye 
Jo Sath chalne wale the Vahi Rasta Mod Gaye.. 
 


kisi se bichadne ki shayari (बिछड़ने की शायरी) 

 
प्रेमिका से बिछड़ने की शायरी

प्रेमिका से बिछड़ने की शायरी
 

 

आँखे हँसती हैं, मग़र ये दिल रोता है
जिसे हम अपनी मंजिल समझते हैं 
उसका हमसफ़र कोई और ही होता है।

Aankhen Hasti Hain Magar yah Dil Rota Hai 
Jise Ham apni Manjil samajhte Hain 
Uska Humsafar Koi Aur hi hota hai....

 

छोड़ गये हमको वो अकेले ही राहों में
चल दिए रहने वो औरों की पनाहों में
शायद मेरी चाहत उन्हें रास नहीं आई
तभी तो सिमट गए वो गैर कि बाहों में।

Chhor Gye Hamko Wo Akele Hi Raho Me
Chal Diye Rahne Wo auro Ki Panaho Me
Sayad Meri Chahat unhe Ras Nhi Aye
Tabhi To Simat Gye Wo Geiro Ki Baho Me.. 

Sad अपनों से बिछड़ने की शायरी(bichadne walo ke liye shayari) 

 
 
 
दर्द कितना भी हो सीने में छुपा लेता हूँ
आँखों में आँसू आने से पहले उसे अंदर ही दबा लेता हूँ
जब कोई पूछे हाल हमारा तो थोड़ा मुस्करा देता हूँ । 

Dard Kitna Bhi Ho Seene Mein Chhupa Leta Hu
Aankhon Mein Aansu Aane Se Pehle Usey Andar Hi Dabaa Leta Hu
Jab Koi Puchhe Haal Humara Toh Thoda Muskura Deta Hu....

 

 

 

कोई अच्छी सी सज़ा दो मुझको
चलो ऐसा करो भूला दो मुझको
तुमसे बिछुड़ो तो मौत आ जाये
दिल की गहराई से ऐसी दुआ दो मुझको।

Koi achhi se saza do mujhko
Chalo aisa karo bhula do mujhko
Tumse bichadon toh maut aa jaye
Dil ki gahraiy se aise dua do mujhko... 
 
 

End of post- Bichadne ki Shayari

 

दोस्तों आपको हमारी आज की Post – Best 60+ |Bichadne ki Shayari प्रेमिका से बिछड़ने की शायरी(2023) कैसी लगी हमें comment करके जरूर बताये अगर आपको हमारी शायरी पसन्द आयी हो तो आप इन्हे अपने दोस्तों को भी whatsApp, Instagram, और Facebook पर जरूर share kare. 

Post by dardbharishayari.com
Thank you
 

Similar Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *